sentence meaning and type of sentence in hindi

sentence meaning and type of sentence in hindi 


जैसा की हम सब जानते english (अंग्रेजी ) विश्व स्तरीय भाषा है इसलिए इसका महत्व बहुत  ज्यादा  है अतः इसको शुद्ध रूप से लिखने तथा बोलने के लिए हमें sentence meaning in hindi का ज्ञान होना बहुत जरूरी हैँ जो हमारी english  को अच्छा बनाता हैँ 

sentence meaning in hindi
Sentence (वाक्य )

sentence meaning in hindi

सभी तरह के संदेश के आदान प्रदान के लिये भाषा का उपयोग किया जाता है. हर भाषा को बोलने अथवा लिखने के लिए शब्दों के समूहों का प्रयोग किया जाता है. ऐसे शब्दों के समूह जिनके भाव पूरे हों उसे  हम sentence (वाक्य) कहते हैं.

Sentence द्वारा किसी व्यक्ति या वस्तु का उल्लेख करते हैं और उस के सम्बन्ध में कुछ वर्णन करते हैं.

यह भी पढ़े

Type of Sentences – वाक्य के प्रकार

उपयुक्त शब्दों के समूह से जो अर्थ और भाव प्रकट होते हैं उनके आधार पर Sentences को चार वर्गों में वर्गीकृत किया जा सकता है.

  1. Declarative or assertive sentence
  2. Interrogative sentence
  3. Imperative sentence
  4. Exclamatory sentence

1. Declarative sentence (डिक्लेरेटिव) या Assertive sentence (ऐसरटिव)

 
Declarative या assertive sentences उन वाक्यों को कहा जाता जो वर्णन करते या स्वीकृत करते हैं.
.
इस श्रेणी के वाक्यों से किसी के बारे स्थिति की जानकारी या उसका विवरण मिलता है.
 

This is a good girl .
यह एक अच्छी लड़की है.

My house is in Bilaspur.
मेरा घर बिलासपुर में है.

 

2. Interrogative sentence (इन्टैरोगेटिव)

वह वाक्य जो प्रश्न पूछता है. कोई भी सवाल पूछने वाला वाक्य को Interrogative (इन्टैरोगेटिव) वाक्य होता है. जैसे…
Interrogative वाक्यों को Question (प्रश्न या सवाल) भी कहते हैं. इसका प्रयोग करने वाला कुछ जानना चाहता है.
.

लिखते समय इस श्रेणी के वाक्यों के अंत में question mark (प्रश्न चिन्ह) – ? – लगाया जाता है.

    What is your name?
आप का नाम क्या है?

  Have you done your work?
क्या आप ने अपना काम किया?

3. Imperative sentence (इन्पैरेटिव)

Imperative वाक्य वह वाक्य है जो आज्ञा या प्रार्थना व्यक्त करे.


यह वह वाक्य है जो किसी और को कोई कार्य करने के लिये कहता है – कहनेवाला आग्रह सकता या आज्ञा दे सकता. जैसे…


ऊपर के उदाहरण में से एक प्रार्थना है और दूसरा आज्ञा. दोनो ही मामलों में इनके उपयोग से सामने वाले को कुछ करने को कहा गया है.

  Please come home before sunset.
कृपया सूर्यास्त से पहले घर आना.

    Complete your work now.
अपना कार्य अभी पूरा करो.

4. Exclamatory sentence (ऐक्सक्लेमेटरी)

वह वाक्य जो बहुत गहरी या अचानक उठीं भावनाओं को प्रकट करे उसे Exclamatory वाक्य कहते हैं.

.

अचनक मिली खुशी या गम की खबर के भाव को व्यक्त करें के लिये जो शब्दों का समूह उपयुक्त होता है वह Exclamatory वाक्य कहलाता है और लिखते समय इनका अंत एक्सक्लमेशन चिन्ह (!) से किया जाता है.

    Yippie! I have won!
यिप्पी! मैं जीत गया!

Oops! I fell!
अर! मैं तो गिर गया!

तो दोस्तों ये जो सब हमने पढ़ा वो थे sentence और उसके प्रकार उम्मीद है दोस्तों ये पोस्ट आप लोगो को पसंद आयी तो कमेंट करके जरूर बताये

MUHAMMED HASHIM

Leave a Comment

4 + eighteen =