Pari Bishnoi IAS – माध्यम परिवार का एक और अथक प्रयास

इस बात से किसी को कोई आश्चर्यचकित नहीं होगा की UPSC की परीक्षा क्रैक कर पाना इतना सरल नहीं है क्योंकि इस परीक्षा के लिए कई लोग दिन रात मेहनत करते है लेकिन फिर भी यह परीक्षा पास नहीं कर पाते है। यह परीक्षा पास करने के लिए लोगो को प्रतिदिन 6 से 10 घंटे के बीच पढ़ाई करनी पड़ती हैं। इसी वजह से इस परीक्षा को भारत की सबसे कठिन परीक्षा मानी जाती है। इस आर्टिकल में हम Pari Bishnoi IAS के बारे में जानेंगे जिन्होंने काफी कठिन परिश्रम से यह मुकाम हासिल किया। 

राजस्थान के बीकानेर में जन्मी Pari Bishnoi IAS ने काफी कठिन परिश्रम करने के बाद यह पद हासिल किया। उनका जन्म 26 फरवरी 1996 को राजस्थान के बीकानेर जिले में हुआ था। उनकी मां सुशीला विश्नोई इस समय जेआरपी में कार्यरत एक पुलिस अधिकारी हैं और उनके पिता मनीराम बिश्नोई, जो पेशे से वकील हैं। परी बिश्नोई के दादा गोपीराम बिश्नोई चार बार गांव के सरपंच रहे।

एक इंटरव्यू में परी बिश्नोई की मां सुशीला बिश्नोई ने कहा कि “मेरी बेटी ने परीक्षा की तैयारी के दौरान सोशल मीडिया अकाउंट और मोबाइल डिवाइस का इस्तेमाल करना बंद कर दिया था” उन्होंने परी बिश्नोई के इस प्रयास के सन्दर्भ में यह कहा है कि इस परीक्षा कि तैयारी करने के दौरान उसने अपना जीवन एक साधु-सन्यासी की तरह व्यतीत किया।

Pari Bishnoi IAS की प्रारंभिक शिक्षा

आईएएस परी बिश्नोई ने अपनी स्कूली शिक्षा अजमेर के सेंट मैरी स्कूल से पूरी की। स्कूली शिक्षा प्राप्त करने के बाद परी बिश्नोई ने अपनी स्नातक की डिग्री विश्वविद्यालय के इंद्रप्रस्थ महिला कॉलेज से पूरी की, स्नातक यानी ग्रेजुएट कि डिग्री लेने के बाद अजमेर में एमडीएस विश्वविद्यालय से राजनीति विज्ञान में पोस्ट ग्राजुएशन की पढ़ाई पूरी की। आपको बता दें कि परी बिश्नोई ने अपने तीसरे प्रयास में यूपीएससी परीक्षा पास कर 30वीं रैंक हासिल की और आईएएस अधिकारी बन गईं।

Pari Bishnoi IAS की परिवार सम्बन्धी जानकारी

Pari Bishnoi IAS एक स्थिर परिवार से आती है। परी के पिता मनीराम बिश्नोई हैं. उनका कार्य क्षेत्र कानून है। परी की मां का नाम सुशीला विश्नोई है। वह अजमेर जिले में जीआरपी पुलिस अधिकारी के रूप में काम करती हैं। परी के भाई-बहन हैं या नहीं यह अज्ञात है। जिस समय यह लेख लिखा जा रहा था, उस समय परी बिश्नोई के भाई-बहनों के संबंध में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं थी। परी बिश्नोई हिंदू धर्म से बिलोंग करती है; इसके अतिरिक्त वह राजपूत हैं।

Pari Bishnoi IAS की शारीरिक बनावट, ऊंचाई और वजन

5 फीट 9 इंच लम्बी Pari Bishnoi शारीरिक रूप से आकर्षक व् सुन्दर हैं। फिलहाल Pari Bishnoi के शरीर के वजन, आंखों के रंग या बालों के रंग के संबंध में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है। उनकी सुन्दर आँखें और खूबसूरत बाल उनके चेहरे कि सुंदरता बढ़ाते हैं। परी बिश्नोई आईएएस का व्यक्तित्व शानदार, प्रभावशाली, व् आकर्षक हैं।

Pari Bishnoi IAS का करियर

Pari Bishnoi IAS एक प्रसिद्ध आईएएस अधिकारी, सोशल मीडिया व्यक्तित्व, यूट्यूबर और सार्वजनिक हस्ती हैं, जिन्होंने अपनी पहचान अपने कठिन परिश्रम और मेहनत से बनाई है। उन्होंने अपनी यह पहचान विकसित करने के लिए अथक प्रयास किए। आईएएस अधिकारी, परी बिश्नोई वर्तमान में गंगटोक, सिक्किम में अपनी सेवा दे रही है। उनका अपना स्वयं का एक यूट्यूब चैनल है जिस पर वह दर्शकों और छात्रों के लिए विभिन्न प्रकार के वीडियो पेश करती है। अपने वीडियो के माध्यम से वह छात्रों को मार्गदर्शन करती हैं। इसके अलावा वह अपने चैनल के माध्यम से कई प्रकार कि सरकारी नौकरी के विकल्पों और परीक्षा प्रक्रियाओं को स्पष्ट करती हैं। वह अपने यूपीएससी परीक्षा के अनुभवों के बारे में भी बात करती हैं।

Pari Bishnoi IAS की कुल संपत्ति और जीवन जीने का तरीका

एक आईएएस अधिकारी के रूप में Pari Bishnoi के रोजगार के लिए सरकार द्वारा प्रदत्त वेतन उनकी आय का प्राथमिक स्रोत है। उनके श्रम के लिए उन्हें जो वेतन मिलता है वह उनकी आय का प्राथमिक स्रोत है। सूत्रों का दावा है कि परी बिश्नोई की कुल संपत्ति करीब 2 करोड़ रुपये है। उनका जीवन जीने का तरीका काफी सुखद और शांतिपूर्ण है।

Pari Bishnoi IAS Personal Life And Husband

हिसार के आदमपुर विधानसभा क्षेत्र से बीजेपी विधायक भव्य बिश्नोई, IAS Pari Bishnoi से शादी करेंगी। बिश्नोई परिवार ने उनकी सगाई की बधाई देने के लिए ट्विटर पर उनकी एक साथ तस्वीरें पोस्ट कीं। हरियाणा राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री चौधरी भजनलाल भव्य बिश्नोई के दादा हैं।

भव्य बिश्नोई के पिता पूर्व विधायक कुलदीप बिश्नोई हैं, जबकि उनकी मां वर्तमान में अखिल भारतीय बिश्नोई महासभा की संरक्षक के रूप में कार्यरत हैं।

और भी पढ़े:-

Leave a Comment