Palanhar Yojana 2023: ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया 

सरकार कई लोक कल्याण कार्यक्रमों की देखरेख करती है। अनाथ बच्चों के लिए ऐसा ही एक कार्यक्रम सरकार द्वारा शुरू किया गया है जिसमे अनाथ बच्चों को प्रति माह कुछ रुपये तक की वित्तीय सहायता देने की अनुमति दी है। आज हम आपको इस आर्टिकल में Palanhar Yojana के बारे में डिटेल में बतायंगे।  

Palanhar Yojana Overview

योजना का नामपालनहार योजना
राज्यराजस्थान
लाभ1500 रूपए
पात्रताअनाथ बच्चे
उद्देश्यआर्थिक सहायता
आवेदन माध्यमऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइटयहाँ क्लिक करें

Palanhar Yojana राजस्थान का उद्देश्य

पालनहार योजना राजस्थान का प्राथमिक लक्ष्य अनाथ बच्चों को उनके पालन-पोषण और शिक्षा के लिए वित्तीय सहायता देना है। इस योजना के माध्यम से, पांच वर्ष की आयु तक के अनाथ बच्चों को ₹500 की वित्तीय सहायता प्राप्त हो सकती है, और एक बार स्कूल में प्रवेश लेने के बाद, वे अठारह वर्ष की आयु तक प्रति माह ₹1000 की वित्तीय सहायता प्राप्त कर सकते हैं। इस कार्यक्रम की बदौलत अनाथ बच्चे मजबूत, स्वतंत्र वयस्कों के रूप में विकसित हो सकेंगे। उन्हें अपनी लागत वहन करने के लिए किसी की सहायता की आवश्यकता नहीं होगी। इसके अलावा, सभी पात्र बच्चों को इस योजना के तहत ₹2000 का वार्षिक भुगतान मिलता है। ताकि वह अपने जूते, स्वेटर, कपड़े आदि खरीद सके।

Rajasthan Palanhar Yojana 2023 के लाभ तथा विशेषताएं

  1. राजस्थान सरकार ने पालनहार योजना शुरू की है।
  2. जो बच्चे अनाथ हैं उन्हें इस कार्यक्रम के माध्यम से वित्तीय सहायता प्राप्त होती है।
  3. पांच वर्ष से कम उम्र के बच्चों को स्कूल में प्रवेश के बाद प्रति माह ₹500 का अनुदान मिलता है, जबकि अठारह (18) वर्ष तक की आयु के बच्चों को प्रति माह ₹1000 का अनुदान मिलता है।
  4. इसके अलावा कपड़े, जूते, स्वेटर और अन्य खरीदारी के लिए सालाना ₹2000 दिए जाते हैं।
  5. सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग इस कार्यक्रम को चलाने का प्रभारी है।
  6. यह कार्यक्रम अनाथ बच्चों को बड़ा होकर लचीला और स्वतंत्र बनने में मदद करेगा।

Rajasthan Palanhar Yojana 2023 के पात्रता

  1. कार्यक्रम के अंतर्गत अनाथ बालक, बालिकाएं एवं बच्चे पात्र होंगे।
  2. बच्चे की उम्र अठारह वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  3. कार्यक्रम का लाभ उन विधवा माताओं के बच्चों को भी उपलब्ध है जिन्होंने पुनर्विवाह किया है।
  4. इसका लाभ पेंशन प्राप्त करने वाली विधवा मां के बच्चों (एक समय में तीन बच्चों तक) को भी मिलता है।
  5. जिन बच्चों के माता-पिता कुष्ठ रोग, एचआईवी या एड्स से प्रभावित हुए हैं वे भी कार्यक्रम लाभ प्राप्त करने के पात्र हैं।
  6. जिन माता-पिता को अदालती आदेशों के तहत आजीवन कारावास या मौत की सजा मिली है, उनकी संतानों को भी अनाथ माना जाएगा और उन्हें इस कार्यक्रम से लाभ मिलेगा।

आवश्यक दस्तावेज

  1. जाति श्रेणी प्रमाण पत्र
  2. आधार कार्ड की फोटो कॉपी
  3. जन आधार/भामाशाह कार्ड की फोटो कॉपी
  4. शैक्षिक योग्यता मार्कशीट/प्रमाण पत्र की फोटो कॉपी

आवेदन प्रक्रिया

  1. पालनहार योजना के लिए आवेदन करने के लिए आपको सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट https://sso.rajasthan.gov.in/signin पर जाना होगा।
  2. फिर आपको यहां अपना नया SSOID पंजीकरण पूरा करना होगा।
  3. इसके बाद आपके सामने योजना का आवेदन पत्र खुल जायेगा। आपको इसे पूरी तरह भरना होगा और सभी आवश्यक सहायक दस्तावेज अपलोड करने होंगे।
  4. अंत में, आपके आवेदन को सफलतापूर्वक पूरा करने के लिए, आपको इसे एक बार जांचना होगा और सबमिट करना होगा।

राजस्थान Palanhar Yojana में भुगतान  की स्थिति कैसे देखे ?

  1. आपको सबसे पहले सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  2. आधिकारिक वेबसाइट पर पहुंचने के बाद आपको होम पेज प्रस्तुत किया जाएगा। ऑनलाइन आवेदन/ई सेवा अनुभाग इस होम पेज पर पाया जा सकता है।
  3. इस सेक्शन से आपको पालनहार भुगतान स्थिति विकल्प का चयन करना होगा। विकल्प पर क्लिक करते ही आपके सामने निम्न पेज खुल जायेगा।
  4. आपको इस पेज पर शैक्षणिक वर्ष, भामाशाह नंबर, एप्लिकेशन आईडी, कैप्चा कोड और अन्य जानकारी दर्ज करनी होगी।
  5. सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करने के बाद आपको “स्थिति प्राप्त करें” बटन पर क्लिक करना होगा। इसके बाद भुगतान की स्थिति आपके सामने आ जाएगी।

Leave a Comment