Kisan Vikas Patra Scheme (RKVY): एक सुरक्षित निवेश विकल्प

जैसा कि आप जानते हैं, हमारा देश किसानो के हित में कई कार्यक्रम पेश करता है, जिनमें से एक Kisan Vikas Patra Scheme है। केंद्र सरकार ने Kisan Vikas Patra Scheme (RKVY) बनाई है। यह योजना एक प्रकार की बचत योजना है। योजना में भाग लेने वाले किसान भाइयों को काफी समय तक निवेश करना होगा; परिपक्वता पर, उन्हें मूल राशि का दोगुना प्राप्त होगा। इससे उन्हें भविष्य में आने वाली समस्याओं से बचने में मदद मिलेगी और वे बेहतर जीवन जीने में सक्षम होंगे। आज हम आपको इस आर्टिकल में kisan vikas patra scheme को डिटेल में समझाने वाले है।  

Kisan Vikas Patra Scheme Overview

योजना का नामराष्ट्रीय कृषि विकास योजना
किसने आरंभ कीभारत सरकार
लाभार्थीकिसान
उद्देश्यकृषि क्षेत्र का विकास करना
आधिकारिक वेबसाइटhttps://rkvy.nic.in/
साल2023

राष्ट्रीय कृषि विकास योजना का उद्देश्य

(RKVY) राष्ट्रीय कृषि विकास योजना का उद्देश्य कृषि और संबंधित उद्योगों के विकास को बढ़ावा देना है। इस कार्यक्रम से कृषि अवसंरचना का विकास किया जायेगा। जो उच्च गुणवत्ता वाले इनपुट, भंडारण, बाजार, सुविधाओं आदि तक पहुंच की गारंटी देना संभव बनाता है। इस योजना की मदद से किसानों की जरूरतों को ध्यान में रखकर योजना बनाई जाएगी। इसके अलावा, यह योजना किसानों को अपनी आय का स्तर बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित करेगी। यह योजना कृषि उद्योग को आगे बढ़ाने में कारगर साबित होगी। इसके अलावा, यह कार्यक्रम किसानों की वित्तीय स्थिति में मदद करेगा।

Kisan Vikas Patra Scheme

किसानों के लिए Kisan Vikas Patra Scheme बेहद फायदेमंद कार्यक्रम साबित होगी। योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आप बैंक या डाकघर में आवेदन कर सकते हैं। आपको बता दें कि इसके लिए निवेशक को 124 महीने यानी 10 साल और 4 महीने की अवधि के लिए निवेश की आवश्यकता होगी। इसके बाद, आपको 124 महीने बीत जाने के बाद 6.9% ब्याज दर पर पहले से दोगुना पैसा मिलेगा। यह कार्यक्रम किसानों और अन्य सभी नागरिकों को ध्यान में रखकर तैयार किया गया है।

जो निवेशक अपने प्रमाणपत्र खरीदने के एक वर्ष के भीतर वापस ले लेते हैं, उन्हें ब्याज देना होगा और जुर्माना भी देना होगा। यदि आप प्रमाण पत्र खरीदने के एक साल बाद अपना पैसा निकालते हैं तो आपको कोई भी जुर्माना नहीं देना होगा। इसके अलावा, निवेशक को केवल 6.9% की दर से ब्याज मिलेगा और 2.5 साल के बाद निकासी करने पर उसे जुर्माना भी नहीं देना होगा।

Rashtriya Krishi Vikas Yojana (RKVY) के लाभ तथा विशेषताएं

  1. केंद्र सरकार ने 2007 में राष्ट्रीय कृषि विकास योजना शुरू की।
  2. ग्यारहवीं और बारहवीं पंचवर्षीय योजनाओं में यह कार्यक्रम शामिल था।
  3. यह कार्यक्रम कृषि और संबंधित उद्योगों की सामान्य उन्नति की गारंटी देगा।
  4. किन राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को अपने कृषि और संबंधित क्षेत्रों के लिए विकास गतिविधियों का चयन करने का अधिकार होगा।
  5. 11वीं योजना के दौरान राज्यों को 22408.76 करोड़ रुपये मिले और 5768 परियोजनाएं चलाई गईं।
  6. 12वीं पंचवर्षीय योजना में इस योजना के तहत 3148.44 करोड़ रुपये जारी कर फसल विकास, बागवानी, कृषि यंत्रीकरण आदि क्षेत्रों में 7600 योजनाएं लागू की गईं।

KVP योजना हेतु पात्रता

  1. यदि कोई नागरिक भारतीय नागरिक नहीं है तो वह इस योजना का लाभ नहीं उठा सकता है।
  2. अठारह वर्ष से अधिक उम्र के लोग Kisan Vikas Patra Scheme के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  3. इस योजना के माध्यम से नाबालिगों के माता-पिता और अभिभावक भी योजना में निवेश करने के पात्र हैं।
  4. केवल वही लोग इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं जो भारतीय राज्य के मूल निवासी नागरिक या किसान हैं।

राज्य कृषि विकास योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज

  1. आधार कार्ड
  2. मोबाइल नंबर
  3. आय प्रमाण पत्र
  4. आयु का प्रमाण
  5. निवास प्रमाण पत्र
  6. ईमेल आईडी आदि
  7. पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

  1. आपको सबसे पहले राष्ट्रीय कृषि विकास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  2. अब आपके सामने मुख्य स्क्रीन दिखाई देगी।
  3. आपको मुख्य पृष्ठ पर “अभी आवेदन करें” विकल्प का चयन करना होगा।
  4. इसके बाद आवेदन पत्र आपकी स्क्रीन पर दिखाई देगा।
  5. आवेदन पत्र में सभी आवश्यक जानकारी भरनी होगी।
  6. अब आपके लिए हर डॉक्यूमेंट को अपलोड करना जरूरी है।
  7. फिर आपको “सबमिट” विकल्प का चयन करना होगा।
  8. आप इस प्रकार राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं।

स्टेट नोडल ऑफिसर की सूची देखने की प्रक्रिया

  1. आपको सबसे पहले (RKVY) राष्ट्रीय कृषि विकास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  2. अब आपको मुख्य स्क्रीन पर दिखाई दे रहे राज्य नोडल अधिकारी विकल्प का चयन करना होगा।
  3. अब आपकी स्क्रीन एक नए पेज पर खुल जाएगी।
  4. राज्य नोडल अधिकारियों की सूची इस पृष्ठ पर उपलब्ध है।

Leave a Comment