औपचारिक पत्र लिखने का सबसे आसान तरीका – Formal Letter writing Hindi(2022)

Formal letter writing Hindi  या औपचारिक पत्र कैसे लिखा जाए। Format of formal letter in Hindi ,लेटर राइटिंग हिंदी, तो दोस्तों आपको यह जानना है, कि किस तरह से formal letter  लिखा जाता है? तो आप सही जगह हो

formal हिन्दी writing पत्र लेखन शुरू करने से पहले आपको लिखने वाले विषय पर जानकारी जुटानी चाहिए जिससे लिखते समय कोई परेशानी ना आए।

Letter writing in Hindi – पत्र कितने टाइप के होते है जिन्हे हमें जानना चाहिए?

पत्र दो प्रकार के होते हैं,

  1. अनौपचारिक पत्र
  2. औपचारिक पत्र

चलिए हम आगे बढते है कि औपचारिक पत्र क्या होता है, फोर्मेट क्या है औपचारिक पत्र लिखने का तरीका क्या हैं 

लोग यह पढ़ रहे है, आप भी पढ़िए

Formal letter writing Hindi
Formal letter

Formal letter writing Hindi – औपचारिक-पत्र लेखन

CLASS 10 के बच्चों के लिए यह जानकारी हिन्दी में अच्छे अंक प्राप्त करने के लिए मदद करने वाली है।

आप अपने घर पर या अपने प्रधानाध्यापक को एक पत्र लिखें?  इस तरह के सवाल आपको class 5 6 7 8 9 10 etc के हिंदी subject के प्रश्न मे मिला होगा।

हाँ,

क्योंकि यह एक औपचारिक पत्र का best examples में से एक है। मेने इसे औपचारिक रूप पत्र ही क्यों कहा।

🤔

औपचारिक-पत्र उसे कहते है जिसका उपयोग हम  प्रधानाचार्य को, बड़े अधिकारी जी को,  सरकारी पत्र, complain Letter आदि पत्र लिखना ही औपचारिक पत्र (formal letter) होता है।

Formal letter format में सबसे बड़ी बात यह है कि इस तरह के पत्र को शुरूआती पंक्तियाँ में सेवा में जैसे शब्दों का इस्तेमाल होता है।

अस्सलामुअलैकुम, महोदय आदि शब्दों का प्रयोग  करें, पत्र लिखते समय,

औपचारिक पत्र के प्रकार

औपचारिक-पत्र के प्रकार की बात करे तो इसके चार होते है।

  1. प्रार्थना-पत्र/आवेदन पत्र (Request Letter)
  2. सम्पादकीय पत्र (Editorial Letter)
  3. कार्यालयी-पत्र (Official Letter)
  4. व्यवसायिक-पत्र (Business Letter)

औपचारिक पत्र का प्रारूप

यहां मैं आपको  औपचारिक-पत्र जो class 9 10 के लिए काफ़ी फायदेमंद होगा इन हिंदी में पढ़ते है।


अपने विद्यालय के प्रधानाचार्य (कारण) छुट्टी के हेतु औपचारिक पत्र

सेवा में,                            दिनांक :-
प्रधानाचार्य जी
विषय – (कारण) छुट्टी हेतु
द्वारा – शिक्षक
श्रीमान सविनय निवेदन है कि मैं (आपका नाम ) आपके विद्यालय का छात्र / छात्रा हूँ। मैं – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – –
– – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – – –
अतः आपसे निवेदन है कि आप मुझे इतने दिनो के लिए छुट्टी दे।

इसके लिए मैं आपका आभारी रहूंग।
आपका आज्ञाकारी छात्र
नाम –
कक्षा –
वर्ग –
क्रमांक –

इस तरह से आप को हिन्दी में पत्र लिखना होगा।

Final words as conclusion – निष्कर्ष 

पत्र मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं, जिसमे आज हमने Formal letter writing Hindi पढ़ा अगर किसी भी तरह कि औपचारिकता के लिए पत्र लिखना हो तो औपचारिक पत्र कि आवयश्कता होती हैं, पत्र लेखन सिखाने के लिए हमने एक लम्बी केटेगरी को तैयार किया हैं, आप उन्हें पढ़ सकते हो। इसी तरह के लेख पढ़ने के लिए हमें रेगुलर फॉलो करें।

Formal Letter कैसे लिखते हैं?

Formal Letter लिखना सिखने के लिए आपको ऊपर लेख को विस्तार से पढना होगा।

फॉर्मल लेटर का क्या मतलब होता है?

ऐसे पत्र जो सम्पादक , पदाधिकारियों, व्यापारियों, पुस्तक विक्रेता,प्रधानाचार्य, ग्राहकों, आदि को लिखे जाते हैँ उन्हें पत्र औपचारिक पत्र कहते हैं।

हिंदी का पत्र कैसे लिखा जाता है?

पत्र दो प्रकार के होते हैं, उनके भी कई प्रमुख प्रकार हैं, इस तरह हिंदी में पत्र लिखने के अलग अलग तरिके हो सकते हैं।

औपचारिक पत्र के प्रकार कितने हैं?

औपचारिक-पत्र के प्रकार की बात करे तो इसके चार होते है।
प्रार्थना-पत्र/आवेदन पत्र (Request Letter)
सम्पादकीय पत्र (Editorial Letter)
कार्यालयी-पत्र (Official Letter)
व्यवसायिक-पत्र (Business Letter)

MUHAMMED HASHIM

Leave a Comment